अधिगम का क्षेत्र – Domains of Learning

अधिगम के महत्वपूर्ण क्षेत्र

अधिगम का क्षेत्र - Domains of Learning newsexpand.com shikha
अधिगम का क्षेत्र - Domains of Learning newsexpand.com shikha

अधिगम का क्षेत्र Domains of Learning

अधिगम के क्षेत्र का निर्धारण ब्लूम  ने इस प्रकार है:-

1- बालक की आवश्यकताओ तथा छमताए

2- समाज की आवश्यकताओ तथा विशिष्ट मांगे

3 – विषय-वस्तु का स्वरुप

उपुक्त शैक्षिक उद्देश्य बालक के विकास में 3 प्रकार के परिवर्तन ला सकते है:-

  1. इससे बालक की बौद्धिक योग्यताओ का विकास होगा, जिसे ब्लूम ने ज्ञानात्मक क्षेत्र (Cognitive domain) कहा है.
  2. इससे बालक में विभिन्न कौशलों का विकास होगा , जिसे ब्लूम ने मनो-क्रियात्मक क्षेत्र (Psycho-motor connotive domain) कहा है.
  3. इससे बालक की विषय के प्रति अभिवृति में परिवर्तन होगा, जिसे ब्लूम ने भावात्मक क्षेत्र (Affective domain) कहा है.

इन परिवर्तनों को भी हम निम्नांकित चित्र द्वारा देख सकते है :-

बालक का विकास (Development of Pupil)

  • ज्ञानात्मक क्षेत्र         
  • मनो-क्रियात्मक क्षेत्र  
  • भावात्मक क्षेत्र       

अधिगम के क्षेत्र महत्वपूर्ण विषय है इससे परीक्षाओं में बहुत प्रश्न आते है.


गालिब को जाने कुछ प्रमुख लाईनो के साथ

2. भूगोल के महत्वपूर्ण प्रश्न

1. भूगोल के महत्वपूर्ण प्रश्न

यात्रा में जरूरी है यह स्मार्ट डिवाइस This smart device is essential for travel

बिना पैसे के साथ आपकी पहली वेबसाइट कैसे बढ़ाएं, कोई ब्रांड नहीं, और कोई कनेक्शन नहीं

4. Important Geography For Question

तरोताजा रहने के लिए अपनाएं ये उपाय, दूर होगा तनाव क्योंकि जान है तो जहान है

बिना पैसे के साथ आपकी पहली वेबसाइट कैसे बढ़ाएं, कोई ब्रांड नहीं, और कोई कनेक्शन नहीं


1 COMMENT

  1. B.A. मे “भूगोल जैसे प्रायोगिक विषयो के अभ्यर्थी मैरिट मे आगे जायेगा । क्योकि मैरिट 30% बीए+70% रीट से बनेगी । मैरिट केवल रीट अंको के आधार पर ही बननी चाहिए। क्योकि रीट परीक्षा विश्वसनीय और वस्तुनिष्ठ होती है जबकी बीए की परीक्षा मे निबन्धात्मक प्रकार के प्रश्न भी होते है जिसमे उत्तर पुस्तिका जाँच मे भी अंतर आ सकता है । रीट परीक्षा और बीए परीक्षा मे कोई समानता नही है ।

Comments are closed.