Popular Jokes English to Hindi

Popular Jokes English to Hindi


Q. What is the biggest lie in the entire universe?
A. “I have read and agree to the Terms & Conditions.”

प्र. पूरे ब्रह्मांड में सबसे बड़ा झूठ क्या है?

उ. “मैंने नियम और शर्तों को पढ़ लिया है और उससे सहमत हूं।”


I intend to live forever. So far, so good.

मेरी चिरकाल तक जीने की इच्छा है। अब तक सब ठीक है.


Q. What do you call it when you have your mom’s mom on speed dial?
A. Instagram.

प्र. जब आप अपनी माँ की माँ को स्पीड डायल पर रखते हैं तो आप इसे क्या कहते हैं?

उ. Instagram.


The important thing is to not stop questioning. Curiosity has its own reason for existence. One cannot help but be in awe when he contemplates the mysteries of eternity, of life, of the marvelous structure of reality. It is enough if one tries merely to comprehend a little of this mystery each day.

Albert Einstein


Doctor: “I’m sorry but you suffer from a terminal illness and have only 10 to live.”
Patient: “What do you mean, 10? 10 what? Months? Weeks?!”
Doctor: “Nine.”

डॉक्टर: “मुझे खेद है, लेकिन आप एक टर्मिनल बीमारी से पीड़ित हैं और केवल 10 रहने के लिए हैं।”

रोगी: “आपका क्या मतलब है, 10? 10 क्या? महीनों? सप्ताह ?!”

डॉक्टर: “नौ।”


I asked God for a bike, but I know God doesn’t work that way. So I stole a bike and asked for forgiveness.

मैंने भगवान से बाइक के लिए पूछा, लेकिन मुझे पता है कि भगवान इस तरह से काम नहीं करता है। इस तरह मैंने बाइक चुराई और माफ करने के लिए कहा।


Always borrow money from a pessimist. He won’t expect it back.

हमेशा निराशावादी से पैसे उधार लेते हैं। वह इसे वापस उम्मीद नहीं करेगा।


इसे भी पढ़े :- राजस्थान में लव जिहाद को लेकर कैमरे पर किया लाइव मर्डर गिरफ्तार

रैनसमवेयर – Ransomware

प्राकृतिक चिकित्सा क्या है विस्तार से जाने Natural medicine

आयुर्वेद क्या है, जाने रोचक बाते

विकास चक्र को कायम रखने हेतु मानव पूंजी और कृषि उत्‍पादकता में त्‍वरित सुधार किए जाने की विशेष आवश्‍यकता

स्वामी विवेकानंद आपको बताएंगे कि सहनशीलता क्या चीज होती है?

Your Pan card is rejected कही आपका पैन कार्ड बंद तो नहीं, ऐसे करे चेक.


1 COMMENT

  1. पोस्टमां पाठ्यपुस्तक अने हकीकत बाबत जणांवेल छे. पृथ्वी राज चौहाण, के महाराणा प्रताप अने महाराष्ट्रना शीवाजीनो उल्लीख छे. शीवाजीना जन्म, राज्याभीषेक मोगल राजा औरंगझेब ना दरबारमां हाजरी ( मुजरो वधारे साचो) आ बाबत खोटी चीतरामण थयेल छे ए वांची ओक्षफर्डना कोईक ईतीहासना प्राध्यापकने सांचु शुं छे ए जांणवुं जोईए. शीवाजीए सुरत लुंट चलावेल जे दुनीयानी मोटामां मोटी लुंट छे. बधो लुंटेल माल शीवाजी जाते दील्ली दरबारमां आपी आव्यो. आ रीतभात पछी आखा देशमां शरु थयी. खोटो ईतीहास अने भृष्टाचारनी रीत भात आज दीवस सुधी लोकोने खबर ज नथी. http://quakeonthelake.org/

Comments are closed.